Exclusive दाल महंगी हुई तो चावल में हल्दी डालकर देने लगे मध्याह्न भोजन

Wed, 28 Oct 2015 00:54:00 GMT


कोंडागांव. महंगाई की मार अब मध्याह्न भोजन पर भी दिखने लगी है। दाल, सब्जी ही नहीं अब बच्चों को खिचड़ी भी नसीब नहीं हो रही है। सरकारी मीनू में अभी भी खीर, पूड़ी, अचार, हलवा, गुड़, चना अौर दाल का चार्ट चस्पा है, लेकिन थाली में सिर्फ चावल, हल्दी और नमक ही दिख रही है। राहर सहित सभी दालों के दाम बढ़ने से समूहों ने इसे बनाना बंद कर दिया है। बच्चों का कहना है कि सब्जी तो कई महीनों से नहीं चखी है। अब दाल और खिचड़ी भी खाने को नहीं मिल रही है। एक ही तरह का खाना खाते-खाते उब गए हैं। स्कूल में एक ही प्रकार का खाना खाकर बच्चे अब ऊब चुके हैं। कुछ बच्चे अब अपने घर से सब्जी लेकर आते हैं तो कुछ स्वाद के अभाव में भोजन थाली में ही छोड़ रहे हैं। 
ज्यादातर बच्चों ने तो अब स्कूल में खाना ही बंद कर दिया है। वे घर से ही खाना खाकर आते हैं। जब इस बारे में अलग-अलग समूहों से भास्कर ने चर्चा की तो समूह की महिलाओं ने बताया कि जितनी राशि शासन से मध्यान्ह भोजन के लिए मिलती है, उसमें सिर्फ चावल और एक सब्जी बन सकती है। उनका कहना है कि चावल तो राशन दुकान से मिल जाता है, लेकिन इस पैसे अब दाल बनाना...   Read More...

International News

Entertainment

FREE!!! Registration