मुस्लिमों की दान की गई भूमि पर बन रहा रामायण मंदिर, तीन अरब रुपए होंगे खर्च

Sun, 26 Mar 2017 23:47:00 GMT

मोतिहारी. अयोध्या में राम जन्मभूमि पर मंदिर व मस्जिद निर्माण को लेकर अपने-अपने पक्ष में अाए हिंदू व मुस्लिमों के लिए मोतिहारी में बन रहा विराट रामायण मंदिर धर्मनिरपेक्षता की मिसाल बन सकता है। यह मंदिर हिंदू-मुस्लिम एकता के लिए नजीर साबित होगा। मंदिर का निर्माण कल्याणपुर प्रखंड के कैथवलिया गांव में मुस्लिमों के सहयोग से हो रहा है। इसके लिए मुस्लिमों ने न सिर्फ भूमि दान दी है, बल्कि इसके निर्माण में बढ़-चढ़ कर हिस्सा भी ले रहे हैं।
 
बताया जाता है कि इस मंदिर का निर्माण कार्य पांच वर्षों में पूरा हो जाएगा। इसके निर्माण पर करीब तीन अरब रुपये खर्च होने का अनुमान लगाया जा रहा है। रामायण मंदिर का रकवा करीब 190 एकड़ में है। इसमें डेढ़ एकड़ भूमि मुस्लिमों ने दान दी है। यह भू-दान केसरिया थाना के गोइछी कुंडवा गांव के अहमद खां व उनके परिजनों ने किया है। मंदिर के लिए करीब 190 एकड़ भूखंड की जरूरत है। मंदिर का निर्माण महावीर स्थान न्यास समिति, पटना द्वारा कराया जा रहा है। पहले मंदिर विश्व प्रसिद्ध कंबोडिया के अंकोरवाट मंदिर की शैली में बनना था। लेकिन, वहां की सरकार...   Read More...

International News

Entertainment

FREE!!! Registration