किसान आंदोलन की आग मेंधधक उठीं सड़कें, कार से खींचकर निकाले लोग

Wed, 07 Jun 2017 23:36:00 GMT


भोपाल/ मंदसौर/ नीमच/ उज्जैन/ देवास.  एमपी के मंदसौर में फायरिंग से किसानों की मौत के बाद आंदोलन की आग और भड़क गई। सुबह अलग-अलग हाईवे पर उतरे किसानों ने एक के बाद एक 170 से ज्यादा वाहनों को फूंक दिया। चार्टर्ड बसों से यात्रियों को उतारकर तोड़फोड़ और आगजनी की गई।
 
मंदसौर में ही दो पेट्रोल पंप, एक फैक्ट्री, ट्रैक्टर-बाइक के शोरूम, दो मंजिला मकान, दो दुकानें और 15 से ज्यादा वाहन फूंके गए। मल्हारगढ़ में रेल पटरियां उखाड़ने की कोशिश की गई।   मंदसौर के भानपुरा में शाम 7 बजे 15 दुकानों में आग लगा दी। इससे पहले सुबह गुस्साए लोगों ने मंदसौर कलेक्टर स्वतंत्र सिंह के साथ मारपीट की। किसी तरह उन्होंने भागकर जान बचाई। भाजपा के पूर्व विधायक राधेश्याम पाटीदार को भी पीटा गया। उनका भी वाहन जला दिया गया। राज्य सरकार ने केंद्र से पैरा मिलिट्री की पांच कंपनियां बुलाई हैं। जो प्रभावित जिलों में जाएंगी। आईजी अंशुमान यादव को देवास व आईजी राकेश गुप्ता को नीमच भेजा गया है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नंदकुमार चौहान को मंदसौर जाने से रोक दिया गया।...   Read More...

International News

Entertainment

FREE!!! Registration