इज्तिमा में पहुंचे 15 लाख, लेकिन अशांत 'सीरिया ' से पहली बार कोई नहीं आया

Mon, 30 Nov 2015 10:43:00 GMT

भोपाल। दुनिया के तीसरे सबसे बड़े मुस्लिम समागम 'इज्तिमा' के आखिरी दिन विश्व में सुख-शांति के लिए दुआ की गई। इसमें भारत के अलावा 11 देशों की जमात शामिल हुईं। अनुमान है कि अंतिम दिन करीब 15 लाख लोग दुआ में शामिल हुए। हालांकि इस बार सीरिया से यहां कोई नहीं पहुंचा। सीरिया में ISIS के आतंक के चलते अशांति का माहौल है।
 
तीन दिनी 68वें इज्तिमा का सोमवार को सामूहिक दुआ के साथ समापन हुआ। इसके साथ ही जमातों के वापस जाने का सिलसिला भी शुरू हुआ। बैरसिया रोड स्थित घासीपुरा में आयोजित आलमी तब्लीगी इज्तिमा में शामिल होने के लिए हजारों की संख्या में लोग भोपाल पहुंचे थे।
 
दुनिया में चल रहे आतंकी हमलों का असर इस आयोजन पर भी अप्रत्यक्ष रुप से हुआ है। इस बार सीरिया से कोई भी जमात इस आयोजन में शामिल नहीं हुई है। सीरिया में चल रही आतंकवादी गतिविधियों को इससे जोड़कर देखा जा रहा है। इसके अलावा फ्रांस से भी कोई जमात इस आयोजन में शामिल नहीं हुई है। इज्तिमा इंतजामिया कमेटी के प्रवक्ता अतीक उल इस्लाम ने बताया कि आयोजन शांतिपूर्ण तरीके से बिना किसी खलल के पूरा हुआ...   Read More...

International News

Entertainment

FREE!!! Registration